टाइल्स और संगमरमर दोनों में कौन बेहतर है और क्यों?

हर किसी का अपने घर का सपना होता है। बहुत से लोग पुराने घरों में (पुस्तैनी) रहते हैं और कुछ लोग सीधे नया घर ही बनवाते हैं।  ऐसे में दिमाग में सबसे बड़ा ख़याल यही आता है कि आखिर फर्श पर क्या लगवाया जाए ?
कुछ लोगों का मानना होता है कि ऐसे ही सीमेंट करा के छोड़ देते हैं।  और कुछ लोगो का विचार इससे बिलकुल हटके होता है।
तो आज आपके इन सबालों के जबाब मैं बहुत ही शानदार भाषा में देने की कोशिश करूंगा और उम्मीद है कि आपको काफी समझ भी आएगा।


अमूमन देखा जाता है कि संगमरमर देखने में बहुत ही स्टाइलिश लगता है। आपको बताना चाहता हूँ कि संगमरमर 3-4 तरीके की होती है। पॉलिश्ड फिनिश, होन फिनिश, सैंड या एबरशिव फिनिश डिज़ाइन में आता है।
अब संगमरमर के रखरखाव के बारे में बताते हैं -
  • संगमरमर का रखाब अगर देखा जाए कि तो इसका रखरखाव बहुत ही ज्यादा आसान है और इसपे चमक लाना चाहते हैं तो फिर से पोलिश किया जा सकता है। 
  • फिर तो चमक बापस लाने के लिए कुछ सालों बाद पोलिश करके आसानी से चमक लाई जा सकती है। 

अब बताते हैं इसके लाभ के बारे में -
  • संगमरमर का फर्श देखने में बहुत ही ज्यादा अच्छा लगता है और बहुत ही रॉयल लगता है और इसपर सिर्फ एक बार ही पैसा खर्च करना होता है। 
  • प्राय: देखा गया है कि गर्मियों में संगमरमर का फर्श बहुत ठंडा रहता है जिससे ये बहुत ही सुखद अनुभव कराता है। 
  • संगमरमर का फर्श बनाये रखना बहुत आसान होता है और कभी कभी स्वीपिंग और पॉलिशिंग की आवश्यकता होती है। 
अब बताते हैं इसके नुकसान के बारे में -

  • संगमरमर बहुत ही महंगा होता है और अगर आप चाहते हैं कि आपका घर एकदम चमचमाता रहे हो तो आपको एक अच्छी अमाउंट खर्च करनी होती है जो इसका सबसे बड़ा डाउनफॉल है। 
  • ये अमूमन बहुत ही ज्यादा भारी होता है इससे इसके ट्रांसपोर्टेशन में बहुत समस्या आती है। 
  • अनुचित तरीके से की गयी साफ़ सफाई संगमरमर की चमक को हमेशा के लिए खो सकती है। 
अब बात कर लेते हैं टाइल्स की -
आखिरकार ये संगमरमर की तुलना में काफी सस्ते होते हैं और कई डिजाइंस और रंगों में उपलब्ध होते हैं और अब तो ये आसानी से उपलब्ध भी होते हैं।

 अब बताते हैं इसके रखरखाव के बारे में -
  • फर्श में टाइल को अच्छे से रखना बहुत ही ज्यादा आसान होता है और इसके साथ ही इसे बहुत ही आसानी से साफ भी किया जा सकता है। 
अब बात करते हैं इसके लाभ  में -
  • टाइल्स का फर्श फायर प्रूफ होता है। 
  • टाइल्स का फर्श बैक्टीरिया मुक्त होता है। 
  • और आजकल बाजार में एंटी स्लिपिंग टाइल्स भी मौजूद हैं। 

अब बात कर लें इसके नुकसान के बारे में -
  • टाइल्स बहुत ही ज्यादा फिसलन वाली होती हैं। 
  • इसपर कोई भी भरी चीज गिरने से इसके टूटने का डर लगा रहता है। 
  • और बाद में रिपेयर के टाइम सेम टाइल मिलना बहुत ही मुश्किल होता है। 
Previous Post
Next Post
Related Posts