अगर करोड़ों रुपये कमाने हैं तो नौकरी छोड़ दो

hotgf.cf

यही जज्बा रहा  मुश्किलों का हल भी निकलेगा, जमीं बंजर हुई तो क्या वहीँ से जल भी निकलेगा।
ना हो मायूस ना घबरा अँधेरों से मेरे साथी, इन्हीं रातों के दामन से सुनहरा कल भी निकलेगा।।
 
दुनिया में बहुत सारे ऐसे लोग हैं जो रोजाना यही सोचते हैं कि एक दिन ये वाली गाड़ी, ऐसा घर, ये सुबिधायें सब कुछ मेरे पास भी होगा। ये लोग राह चलते, अकेले में बैठते, किसी सी मिलते समय, खाना खाते समय, मतलब हर समय सिर्फ यही सोचते रहते हैं कि ये सुबिधायें एक दिन मेरे पास होंगीं। लेकिन कोई भी व्यक्ति कभी भी यह नही सोचता कि आखिर इतनी बड़ी सफलता मिलेगी कैसे? इतना सबकुछ कैसे संभव होगा? लोग सिर्फ अपने सपनों में खोये रहते हैं। उनके खयालात इतने बड़े हो जाते हैं कि वो अपनी असल जिंदगी को भी अपने ख्यालों जैसा सोचने लगते हैं।  और फिर इन्ही चन्द लोगों के बीच से एक दिन असली हीरो निकल कर आता है। और फिर वो लोगो को अपनी असली ताकत, अपनी सफलता के पीछे लगने वाली मेहनत के बारे में बताता है और लोग उसकी उन बातों को बड़े ही ध्यान से सुनते हैं और फिर उसकी ज़िन्दगी में घटने वाली हर एक घटना को अपनी ज़िन्दगी से जोड़कर देखते हैं और कभी - कहीं उस व्यक्ति की निजी ज़िन्दगी की कहानी का कोई भी भाग अगर लोगों की ज़िन्दगी से मैच कर गया, तो ये लोग फिर खुद को उस व्यक्ति जैसा समझने की भूल करने लगते हैं। प्राय: लोग ये भूल जाते हैं कि जब उस व्यक्ति ने अपने सपनों को साकार करने के लिए जो अपार मेहनत की और उस मेहनत के पीछे उसके संघर्ष के दिनों में जो कष्ट झेले, उस बीच उसे जो दरिद्रता का एहसास हुआ, कितने ही पल वो बिलकुल अकेला रहा, कई बार तो बिना खाना खाये ही सोया, ये सब किसी को नहीं देखता।
सफलता का अपना अलग ही और बहुत ही निराला रूप है - कोई सफल बनने के लिए दिन रात मेहनत करता है तो कोई सफल होने के लिए महान लोगों की जीवनियां पढ़ता है। और कोई रोजाना सोने से पहले अपने सपनों की उस हसीन सी किताब को खोलता, थोड़ी देर सोचता और रात में वही सपना देखता और सुवह उठकर फिर से अपने काम में लग जाता है। बस यही दुनिया है, और यही लोगों की सोच है।

" जो अपनी सोच पर विजय पाता है, मैदान में वही टिक पाता है "

इसलिए कुछ भी करने से पहले, अपने विचारों के उस समंदर से बाहर निकलकर आओ, और देखो, सोचो , समझो, और लग जाओ। 
" व्यक्ति अपने कार्यों से महान होता है, अपने जन्म से नहीं "
 
अब बात आती है कि करोड़ों रुपयों को कमाने के लिए नौकरी क्यों छोड़ दें? नौकरी छोड़ने के बाद Future, सिक्योर होगा भी कि नहीं। हजारों तरह के प्रश्न सबके दिमाग में चलने लगे होंगे। अब ये सोचना स्वाभाविक भी है कि नौकरी छोड़ने के बाद फिर करेंगे क्या?

अब आपके उत्तर की तरफ चलते हैं। अगर आप 'अपने-आप' पर भरोसा करते हैं तो आप नौकरी छोड़कर व्यापार करें, और अगर आप अपने काम पर भरोसा करते हैं तो फिर आप सेवा(नौकरी) करें। क्यूंकि इस दुनिया में सिर्फ वही इंसान दुखी है और उन्हें ही सफलता नही मिलती जो दुबिधा में रहते हैं कि "क्या व्यापार करने के लिए नौकरी को छोड़ा जाए" और अन्तत: लोभ और लालच उन्हें पीछे धकेल लाता है और वो "वास्तव में क्या है?'' इस बात से जीवनभर फिर अनजान बना रहता है। तो किसी भी काम को करने के लिए सही दृष्टिकोण अपनायें। खुद का मार्गदर्शन स्वयं ही करें। और फिर कमायें करोड़ों रुपये और छोड़ दें नौकरी। 

" जिंदगी में आप कितनी बार हारे, ये कोई मायने नहीं रखता 
क्योंकि आप सिर्फ जीतने के लिए पैदा हुए हो "

Previous Post
Next Post
Related Posts