जानें इस भारतीय वैज्ञानिक के बारे में, रेप रोकने वाला सेंसर बनाकर हैं चर्चा में


नई दिल्ली : भारतीय मूल की एक युवा वैज्ञानिक मनीषा मोहन इन दिनों चर्चा में है. इस युवा वैज्ञानिक ने एक ऐसा सेंसर बनाया है जो कि रेप रोकने वाला सेंसर बनाया है. यह एक ऐसा सेंसर बनाया है जिसके जरिए मुश्किल हालात में आसपास के लोगों और जान-पहचान के लोगों को मैसेज भेजकर अर्ल्ट किया जा सकता है. इस सेंसर को कपड़े पर स्टीकर की तरह लगाया जा सकता है. इस सेंसर में एक ब्लूट्रुथ लगा है जो कि स्मार्टफोन एप से जुड़ा होता है. सेंसर का एक वीडियो भी एमआईटी मीडिया लैब की तरफ से यू-ट्यूब पर अपलोड किया गया है जिसे 2 लोग से ज्यादा लोग देख चुके हैं.
एमआईटी की स्टूडेंट हैं मनीषा
वीडियो देखने के लिए नीचे दी हुई लिंक पर क्लिक करें कि कौन सी जगह ये चिप लगाई जायेगी। ब्रा, पैंटी, या फिर शरीर के किसी भाग में।  जरूर देखें पूरा वीडियो।
http://corneey.com/qNE5Qb

मनीषा अमेरिका की प्राइवेट रिसर्च यूनिवर्सिटी MIT (Massachusetts Institute of Technology) की स्टूडेंट हैं. यहां एमआईटी मीडिया लेब में लिविंग मोबाइल ग्रुप में मनीषा मास्टर्स की स्टूडेंट है. मीडिया लैब ज्वाइन करने से पहले मनीषा स्वीडन में प्रोडक्शन टैक्नोलोजी सेंटर में काम करती थी.
इंजीनियरिंग स्टूडेंट के तौर पर हुए अनुभवों से मिली सेंसर बनाने की प्रेरणा
मोहन का कहना है कि चेन्नई में जब वह इंजीनियरिंग की पढ़ाई कर रही थी तो उस दौरान हुए अनुभवों ने उन्हें इस तरह के सेंसर बनाने के लिए प्रेरित किया. उन्होंने कहा, 'कैंपस में एक तय समय के बाद लड़िकयों को बाहर जाने की इजाजत नहीं थी. लड़कियों को शाम 6.30 तक वापस लौटना होता था.' मनीषा का कहना है कि लड़कियों को घरों के अंदर रहने से कहन से अच्छा है उन्हें ज्यादा सिक्योरिटी दी जाए.
क्या कहना है मनीषा का?
वीडियो देखने के लिए नीचे दी हुई लिंक पर क्लिक करें कि कौन सी जगह ये चिप लगाई जायेगी। ब्रा, पैंटी, या फिर शरीर के किसी भाग में।  जरूर देखें पूरा वीडियो।
http://corneey.com/qNE5Qb

मनीषा ने कहा कि लड़कियों को घर में कैद रखने से अच्छा है कि उन्हें सुरक्षा प्रदान की जाए.उन्होंने कहा कि चेन्नई में इंजीनियरिंग की पढ़ाई करते हुए जो अनुभव उन्हें हुए, उसके बाद ही उसे यह ख्याल आया.नए एप के जरिये न केवल महिलाओं बल्क‍ि स्कूल जाने वाली छात्राओं, शारीरिक रूप से विकलांगों को भी रेप से बचाया जा सकता है. मोहन ने कहा कि हमें बॉडी गार्ड की जरूरत नहीं है. मुझे लगता है कि हमारे पास खुद की सुरक्षा करने की क्षमता होनी चाहिए.
दो तरीके से काम करता है सेंसर
मनीषा का बनाया गया सेंसर जबरन शरीर से कपड़ों को हटाने की गतिविधि को भांपकर आसपास को लोगों, दोस्तों और परिवारवालों को मैसेज भेजता है. यह सेंसर दो तरीके से काम करता है - पैसिव और एक्ट‍िव मोड में.
पैसिव मोड में कैसे काम करेगा सेंसर
पैसिव मोड में यह मैनुअली काम करता है. लड़की इसका बटन दबाकर आसपास के लोगों को अलर्ट कर सकती है. अलर्ट भेजने पर तेज अलार्म बजेगा या दोस्तों को कॉल लग जाएगी. ऐसा इसलिए होगा क्योंकि ये ब्लूटूथ स्मार्टफोन ऐप से जुड़ा होता है.
एक्टिव मोड में कैसे काम करेगा सेंसर.................................

पूरी खबर पढ़ने के लिए जी न्यूज़ पर क्लिक करें।
Previous Post
Next Post
Related Posts